1. हिन्दी समाचार
  2. खेल
  3. जिससे मौत खाती थी खौफ, उस ‘ Undertaker ’ की वायरस ने ली जान

जिससे मौत खाती थी खौफ, उस ‘ Undertaker ’ की वायरस ने ली जान

दुनिया में अंडरटेकर (Undertaker) के नाम से मशहूर, जानें मानें किक बॉक्सिंग (Kick Boxing) तीन बार के वर्ल्ड चैंपियन (World Champion) फ्रेडरिक सिनिस्ट्रा (Kick Boxing Champion Frederic Sinistra) का निधन (Death) हो गया है। वह 41 वर्ष के थे। बता दें कि फ्रेडरिक सिनिस्ट्रा (Frederic Sinistra) कोरोना वायरस से जूझ रहे थे और उन्होंने अपनी जिद में तय किया कि वह अपनी शारीरिक शक्ति से ही कोरोना को हरा देंगे। समझा जाए तो एक तरह से फ्रेडरिक सिनिस्ट्रा (Frederic Sinistra) ने खुले तौर पर कोरोना को चुनौती दे रखी थी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। दुनिया में अंडरटेकर (Undertaker) के नाम से मशहूर, जानें मानें किक बॉक्सिंग (Kick Boxing) तीन बार के वर्ल्ड चैंपियन (World Champion) फ्रेडरिक सिनिस्ट्रा (Kick Boxing Champion Frederic Sinistra) का निधन (Death) हो गया है। वह 41 वर्ष के थे।

पढ़ें :- Meghalaya BJP Candidates List: BJP ने 60 प्रत्याशियों के नामों का किया ऐलान, देखिए लिस्ट

बता दें कि फ्रेडरिक सिनिस्ट्रा (Frederic Sinistra) कोरोना वायरस से जूझ रहे थे और उन्होंने अपनी जिद में तय किया कि वह अपनी शारीरिक शक्ति से ही कोरोना को हरा देंगे। समझा जाए तो एक तरह से फ्रेडरिक सिनिस्ट्रा (Frederic Sinistra) ने खुले तौर पर कोरोना को चुनौती दे रखी थी।

द सन की एक रिपोर्ट के मुताबिक, फ्रेडरिक सिनिस्ट्रा कोरोना से संक्रमित थे। बता दें कि रिपोर्ट्स के अनुसार, उन्होंने अपने आपको अस्पताल से डिस्चार्ज कर खुद ही घर पर इलाज करने का फैसला लिया था। फ्रेडरिक सिनिस्ट्रा ने खुले तौर पर कोरोना को चुनौती दे रखी थी वह मानते थे कि, वह अपनी शारीरिक शक्ति से ही कोरोना को हरा देंगे और अपनी इसी ज़िद के चलते फ्रेडरिक ने वैक्सीन भी नहीं लगवाई थी।

बताया जा रहा है कि, फ्रेडरिक मजाक में यह भी कहते थे कि, रिंग में बड़े बड़े पहलवानों को शिकस्त देने वाले फ्रेडरिक पर कोरोना नवंबर में हावी हुआ था। शुरुआत के दिनों में उन्होंने इससे खुद ही निपट लेने की बात कही थी। बादमे उनकी हालत बिगड़ने लगी तब उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी और इलाज के दौरान उनका निधन हो गया।

फ्रेडरिक सिनिस्ट्रा को अस्पताल में भर्ती होने के समय भी उन्हें खुद पर भरोसा था और अपने फैंस को उन्होंने कहा था कि इस बीमारी से जीतकर वह शीघ्र ही अपने लोगों के बीच लौटेंगे। उनकी मौत के बाद उनकी पत्नी भी यह मानने के लिए तैयार नहीं है कि उनके पति की मौत कोरोना की वजह से हुई है।

पढ़ें :- Free Condoms Thailand : मुफ्त बांटे जाएंगे इस देश में 9.5 करोड़ कंडोम, ऐप्लिकेशन के जरिए करवाना होगा रजिस्ट्रेशन

फ्रेडरिक सिनिस्ट्रा ने इसी जिद की वजह से वैक्सिन नहीं लिया था। फ्रेडरिक सिनिस्ट्रा पहले से ही कोरोना गाइड लाइनों को बकवास बताया है। उन्हें मानने से इंकार करते थे। इसी वजह से उन्होंने कोरोना वैक्सिन भी नहीं लगवाया था। कोरोना वायरस और उसके टीके के बारे में वह भी अनेक लोगों की तरह यह मानते थे कि यह दरअसल एक धोखा है और शारीरिक तौर पर मजबूत व्यक्ति पर ऐसे अफवाहों का कोई असर नहीं होता।

फ्रेडरिक सिनिस्ट्रा मजाक में यह भी कहते थे कि अगर कोरोना से दो-दो हाथ करना भी पड़ा। तो अपनी निजी ताकत से ही वह उसे पछाड़ देंगे। पिछले दो वर्षों से लगातार कोरोना गाइड लाइनों का उल्लंघन करने वाले इस सबसे शक्तिशाली व्यक्ति पर कोरोना का हमला नवंबर महीने में हुआ था। शुरुआत के दिनों में भी उन्होंने खुद को सबसे शक्तिशाली व्यक्ति बताते हुए इससे खुद ही निपट लेने की बात कही थी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...