1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी: अब और तेज दौड़ेगी काजल, नन्हीं एथलीट को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया सम्मानित

यूपी: अब और तेज दौड़ेगी काजल, नन्हीं एथलीट को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया सम्मानित

जोश और जज्बे से भरपूर नन्हीं धावक काजल अब और तेज दौड़कर जिंदगी में और लंबा सफर तय करेगी क्योंकि उसे अब सीधे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का प्यार और आशीर्वाद मिल चुका है। काजल के प्रयागराज से लखनऊ तक 200 किमी के सफर को मुख्यमंत्री ने सम्मानित कर के और यादगार बना दिया।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। जोश और जज्बे से भरपूर नन्हीं धावक काजल अब और तेज दौड़कर जिंदगी में और लंबा सफर तय करेगी क्योंकि उसे अब सीधे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) का प्यार और आशीर्वाद मिल चुका है। काजल के प्रयागराज से लखनऊ तक 200 किमी के सफर को मुख्यमंत्री ने सम्मानित कर के और यादगार बना दिया। एथलीट बनने का है सपना रखने वाली काजल को मुख्यमंत्री द्वारा दौड़ने के लिए जूते भी उपहार में दिए गए। जनपद प्रयागराज के माण्डा थाना क्षेत्र के ललितपर गांव निवासी नीरज कुमार निषाद की 10 वर्षीय पुत्री काजल निषाद (kajal nishad) कक्षा चार की छात्रा है।

पढ़ें :- जेईई मेंस 2023 के सेशन 1 का रिजल्ट जारी, इस तरह से करें चेक

काजल ने प्रयागराज में एक स्थानीय खेल स्पर्धा में भाग लिया था और दौड़ को पूरा किया था। परन्तु कार्यक्रम में उचित सम्मान ना मिल पाने के कारण काजल काफी निराश हो गई थी। इसी बात को लेकर काजल ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर उनसे मिलने की इच्छा जाहिर की थी जिसके लिए काजल 10 अप्रैल को प्रयागराज से लखनऊ के लिए पैदल ही निकल पड़ी। प्रयागराज से लखनऊ तक का करीब 200 किलोमीटर लंबा सफर काजल ने 15 अप्रैल को पूरा किया और सीधे मुख्यमंत्री से मिलने 5 कालीदास मार्ग पर पहुंची।

मुख्यमंत्री को जैसे ही इस बात की जानकारी मिली उन्होंने तुरंत ही काजल को मिलने के लिए कहा। काजल की इस लगन और समर्पण को देखते हुए मुख्यमंत्री ने उसे अपने हाथों से सम्मानित किया और साथ ही साथ उसे आगे भी इसी तरह दौड़ में एक नया मुकाम हासिल करने के लिए प्रेरित करते हुए जूते, ट्रैक सूट और खेल किट भी उपहार में दिया।

जब उसे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा सम्मान मिला तो काजल की खुशी का कोई ठिकाना ना रहा। इस उपहार के लिए उसने मुख्यमंत्री का धन्यवाद किया। इसके साथ ही बाबू बनारसी दास खेल अकादमी ने काजल की प्रतिभा का सम्मान करते हुए उसकी आगे की तैयारी के लिए उम्र भर खेल किट और जूते देने की पूरी जिम्मेदारी ली है।

पढ़ें :- भूकंप की मार झेल रहे तुर्की को भारत ने भेजी राहत-सामग्री, अब तक करीब 4 हजार लोगों की हुई मौत
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...