HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. अखिलेश यादव ने महंत राजू दास की सुरक्षा हटाए जाने पर भाजपा को दी नसीहत, बोले- हार का बदला न लें अयोध्या के साधु-संतों से

अखिलेश यादव ने महंत राजू दास की सुरक्षा हटाए जाने पर भाजपा को दी नसीहत, बोले- हार का बदला न लें अयोध्या के साधु-संतों से

लोकसभा चुनाव 2024 (Lok Sabha Elections 2024) में भारतीय जनता पार्टी (BJP) की यूपी में करारी हार के बाद समीक्षा बैठक में विवाद हो रहा है। इसको लेकर समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) को मौका मिल गया है। अयोध्या में समीक्षा बैठक के दौरान डीएम नीतीश कुमार (DM Nitish Kumar) और हनुमानगढ़ी के पुजारी राजू दास (Mahant Raju Das) के बीच नोक-झोंक हुई थी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। लोकसभा चुनाव 2024 (Lok Sabha Elections 2024) में भारतीय जनता पार्टी (BJP) की यूपी में करारी हार के बाद समीक्षा बैठक में विवाद हो रहा है। इसको लेकर समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) को मौका मिल गया है। अयोध्या में समीक्षा बैठक के दौरान डीएम नीतीश कुमार (DM Nitish Kumar) और हनुमानगढ़ी के पुजारी राजू दास (Mahant Raju Das) के बीच नोक-झोंक हुई थी। इसके बाद डीएम ने बाद हनुमानगढ़ के पुजारी राजू दास की सुरक्षा वापस ले लिया था। इसी को लेकर अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav)  ने एक्स मीडिया पर पोस्ट कर भारतीय जनता पार्टी (BJP) को नसीहत दी है। अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा है कि हार का बदला भाजपा साधु-संतों से न लें।

पढ़ें :- ऐसे आदेश पूरी तरह से ख़ारिज होने चाहिए...कांवड़ यात्रा को लेकर जारी फरमान पर बोले अखिलेश यादव

बता दें कि अयोध्या में गुरुवार को भाजपा की हार की समीक्षा और फीडबैक लेने योगी सरकार के मंत्री सूर्य प्रताप शाही व जयवीर सिंह पहुंचे थे। बैठक में हनुमान गढ़ी (Hanumangarhi) के पुजारी राजू दास को बुलाया गया था। इस दौरान राजू दास ( Raju Das) ने हार का ठीकरा डीएम पर फोड़ दिया। इसके बाद जिलाधिकारी अयोध्या नीतीश कुमार (District Magistrate Ayodhya Nitish Kumar) और हनुमानगढ़ी के पुजारी राजू दास (Hanumangarhi Priest Raju Das) के बीच जमकर नोकझोक हुई। राजू दास ( Raju Das)  का आरोप है इसके बाद कि जिलाधिकारी नीतीश कुमार (DM Nitish Kumar)  ने उनकी सुरक्षा हटा दी है, जबकि जिलाधिकारी ने कहा कि राजू दास ( Raju Das)  अपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्ति हैं और उनके खिलाफ कई मुकदमे भी दर्ज हैं। सुरक्षा देने वाली कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर गनर हटाया गया है। अब इसी मामले को लेकर अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav)  ने भाजपा को नसीहत दी है। अखिलेश ने X पोस्ट पर लिखा है कि ‘उप्र भाजपा अपनी हार का बदला अयोध्या के साधु-संतों से न लें। जो सच में सज्जन है उनकी सुरक्षा की समीक्षा करके सुरक्षा प्रदान की जाए’।

पढ़ें :- अखिलेश यादव ,बोले-मुजफ्फरनगर पुलिस का फरमान सामाजिक अपराध,कोर्ट स्वत: संज्ञान ले और करे कार्रवाई

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...