1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Assam Floods 2022 : असम में बाढ़ की स्थिति गंभीर, सड़कों पर रहने के लिए मजबूर लोग

Assam Floods 2022 : असम में बाढ़ की स्थिति गंभीर, सड़कों पर रहने के लिए मजबूर लोग

असम में भारी बारिश ने राज्य में संकट पैदा कर दिया है। पूरे राज्य में  बाढ़ के कारण जनजीवन असमान्य हो गया है। राज्य के 28 जिलों के 33 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Assam Floods 2022 : असम में भारी बारिश ने राज्य में संकट पैदा कर दिया है। पूरे राज्य में  बाढ़ के कारण जनजीवन असमान्य हो गया है। राज्य के 28 जिलों के 33 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। सबसे बुरा हाल नागौन जिले का है। इस जिले के 155 गांव पानी में डूबे हुए है। बाढ़ की मार से लोग बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। ग्रामीणें के घर डूबे हुए हैं। खबरों के अनुसार, लोगों को सड़कों के किनारे तंबू लगाकर शरण लेना पड़ा है। केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने बीते दिनों इलाके का दौरा कर हालात का जायजा लिया। कछार जिले का सिलचर शहर छठे दिन भी जलमग्न रहा।  नदियों का जल स्तर कुछ हद तक कम हुआ है। हालांकि, धुबरी में ब्रह्मपुत्र और नगांव में कोपिली नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं।

पढ़ें :- असम सरकार की 'जनसंख्या सेना' मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में जन्म दर को ऐसे करेगी कंट्रोल

उपायुक्त कीर्ति जल्ली ने कहा कि कछार जिला प्रशासन बीमार लोगों को अस्पताल पहुंचाने को प्राथमिकता देने के साथ सिलचर में बचाव अभियान चला रहा है। उन्होंने कहा कि भारतीय वायुसेना के हेलीकॉप्टर की मदद से भोजन के पैकेट, पीने के पानी की बोतलें और अन्य जरूरी चीजें शहर में वितरित की जा रही हैं तथा यह कार्य तब तक जारी रहेगा जब तक कि स्थिति में सुधार नहीं हो जाता।

खबरों के अनुसार,असम के आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अनुसार सभी 28 जिलों के 33 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। 2.65 लाख से ज्यादा लोग राहत शिविरों में रह रहे हैं। बाढ़ व वर्षाजनित हादसों के कारण अब तक 118 लोगों की जान जा चुकी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...