1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. केंद्रीय कैबिनेट का बड़ा निर्णय: हर गांव तक पहुंचेगा इंटरनेट, भारतनेट के लिए 19401 करोड़ मंजूर

केंद्रीय कैबिनेट का बड़ा निर्णय: हर गांव तक पहुंचेगा इंटरनेट, भारतनेट के लिए 19401 करोड़ मंजूर

केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में देश के 16 राज्यों में भारतनेट के लिए 19,041 करोड़ रुपये के वायबिलिटी गैप फंडिंग को मंजूरी दे दी गई है। सरकार के इस फैसले के बाद गांवों में ब्रॉडबैंड इंटरनेट सुविधा पहुंचेगी और पीपीपी मॉडल के जरिए भारतनेट कार्यान्वयन रणनीति को अनुमति दी गई है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सरकार के इस फैसले को ऐतिहासिक बताया है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में देश के 16 राज्यों में भारतनेट के लिए 19,041 करोड़ रुपये के वायबिलिटी गैप फंडिंग को मंजूरी दे दी गई है। सरकार के इस फैसले के बाद गांवों में ब्रॉडबैंड इंटरनेट सुविधा पहुंचेगी और पीपीपी मॉडल के जरिए भारतनेट कार्यान्वयन रणनीति को अनुमति दी गई है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सरकार के इस फैसले को ऐतिहासिक बताया है।

पढ़ें :- रविशंकर प्रसाद का उद्धव सरकार पर हमला, कहा-महाराष्ट्र में विकास नहीं वसूली हो रही है
Jai Ho India App Panchang

पिछली 15 अगस्त को लाल किले की प्राचीर से पीएम मोदी ने घोषित किया था कि 1000 दिन में छह लाख गांवों में भारतनेट के माध्यम से ऑप्टिकल फाइबर ब्रॉडबैंड लाएंगे। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हम 1.56 लाख ग्राम पंचायतों में पहुंच चुके हैं। देश की 2.5 लाख ग्राम पंचायतों को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ना था। आज भारत नेट को पीपीपी मॉडल के माध्यम से देश के 16 राज्यों में 29,432 करोड़ रुपये के कुल खर्च पर हमने मंजूरी दी है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार की ओर से वायबिलिटी गैप फंडिंग 19,041 करोड़ रुपये की होगी। ये हम देश के तीन लाख 61 हजार गांवों में जो 16 राज्यों में हैं वहां पीपीपी मॉडल के माध्यम से ला रहे हैं। हमने इसे 16 राज्यों में नौ पैकेज बनाया है। किसी एक प्लेयर को चार पैकेज से अधिक नहीं मिलेगा।

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...