1. हिन्दी समाचार
  2. जीवन मंत्रा
  3. जानिए रोजाना व्यायाम करने से कैसे ठीक हो सकती है आंखों की खुजली

जानिए रोजाना व्यायाम करने से कैसे ठीक हो सकती है आंखों की खुजली

हर बार जब हम पलक झपकाते हैं, तो हमारी आंखें आंसू से ढकी होती हैं स्वस्थ आंसू में तीन परतें होती हैं तेल, पानी और म्यूसिन-जो एक साथ काम करती हैं और आंखों की सतह को हाइड्रेट करती हैं और धूल या गंदगी जैसे संक्रमण पैदा करने वाली जलन से बचाती हैं।

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

कुछ शोधकर्ताओं के अनुसार व्यायाम हमारी आंखों के लिए बेहद फायदेमंद होता है। एरोबिक व्यायाम में भाग लेने के बाद आंसू स्राव और आंसू फिल्म स्थिरता में उल्लेखनीय वृद्धि सूखी, खुजली वाली आंखों से राहत मिल सकती है।

पढ़ें :- अच्छी सेहत पाने के लिए करें इन चीजों का सेवन

हर बार जब हम पलक झपकाते हैं, तो हमारी आंखें आंसू फिल्म से ढकी होती हैं स्वस्थ आंसू में तीन परतें होती हैं-तेल, पानी और म्यूसिन-जो एक साथ काम करती हैं और आंखों की सतह को हाइड्रेट करती हैं और धूल या गंदगी जैसे संक्रमण पैदा करने वाली जलन से बचाती हैं। जब आंसू फिल्म का कोई हिस्सा अस्थिर हो जाता है, तो आंखों की सतह पर सूखे धब्बे विकसित हो सकते हैं, जिससे आंखों में खुजली या चुभने और जलन जैसे लक्षण हो सकते हैं।

स्क्रीन उपयोग से जुड़ी हमारी बहुत सारी गतिविधि के साथ, शुष्क आंखों के लक्षण तेजी से आम होते जा रहे हैं। आंखों की बूंदों या अन्य वैकल्पिक उपचारों का उपयोग करने के बजाय, हमारे अध्ययन का उद्देश्य यह निर्धारित करना है कि क्या शारीरिक रूप से सक्रिय रहना सूखापन के खिलाफ एक प्रभावी निवारक उपाय हो सकता है।

चूँकि आँखों की एलर्जी इतनी आम होती है, इसलिए बिना प्रिसक्रिप्शन के मिलने वाले ऐसे कई आई ड्रॉप्स उपलब्ध हैं, जिन्हें एलर्जी की वजह से आँखों को होने वाली खुजली, लालपन और पानी से भरी आँखों में आराम देने के लिए बनाया गया है।

यदि आपकी आँखों की एलर्जी के लक्षण अपेक्षाकृत उतने गंभीर नहीं हैं, तो एलर्जी के लिए बिना प्रिसक्रिप्शन वाले आई ड्रॉप आपके लिए बहुत अच्छे परिणाम दे सकते हैं और प्रिसक्रिप्शन वाले आई ड्रॉप और अन्य दवाओं की तुलना में कम महंगे हो सकते हैं।

पढ़ें :- देखिये सुबह की आदतें जो वजन कम करने में कर सकती हैं आपकी मदद

आंखों की सही देखभाल बेहद जरूरी है। आंखों में खुजली होने पर कभी भी उसे मलना नहीं चाहिए। अगर ऐसा नहीं किया गया तो आंखों में खुजली और जलन जैसी अन्य परेशानी आंखों को नुकसान पहुंचाने के लिए काफी है। इसलिए अपने आहार पर विशेष ध्यान दें और निम्नलखित खाद्य पदार्थ अपने आहार में शामिल करें। जैसे विटामिन्स और मिनरल्स का ज्यादा से ज्यादा सेवन करें।

विटामिन्स और मिनरल का सेवन रोजाना और संतुलित करना चाहिए। आंखों को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन-ए, विटामिन-सी, विटामिन –ई और जिंक से भरपूर खाद्य पदार्थों को अपने आहार में शामिल करें। आंखों को स्वस्थ रखने के लिए और आंखों की परेशानी से बचने के लिए पपीता, टमाटर, संतरा, गाजर और पालक का सेवन किया जा सकता है।

जिस तरह आप अपने शरीर की देखभाल करते हैं, त्वचा को खूबसूरत बनाये रखने के लिये उपाये करते हैं ठीक उसी तरह आंखों की सफाई और देखभाल की जरूरत होती है। ऐसा नहीं करने पर इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए आंखों में ताजे पानी से छींटे मार सकते हैं। इससे आंखों की खुजली और जलन की समस्या से भी बचा जा सकता है। धूप से बाहर निकलने के पहले फेस को कवर करने के साथ-साथ चश्मा लगाना न भूलें। अगर आप टू व्हीलर चलाते हैं तो हमेशा चश्मे का प्रयोग करें। ऐसा करने से आंखों में खुजली और जलन दोनों से बचा जा सकता है।

आंखें शरीर के सबसे नाजुक अंगों में से एक है। इसलिए आंखों की सुरक्षा बेहद जरूरी है। इसलिए खेल खलेने के दौरान या ऑफिस में लैपटॉप पर काम करने के वक्त, हर समय अपनी आंखों का ख्याल रखें। आजकल बच्चे टीबी और फोन पर वीडियो गेम खूब खेलते नजर आते हैं। इसलिए सबसे पहले तो बच्चों को फोन या टैब जैसे एलेक्ट्रॉनिक सामानों के संपर्क में न आने दें और अगर आपका बच्चा अत्यधिक टीबी, मोबाइल फोन से चिपका रहता है तो उसे समझाएं।

आज हम आपको कुछ ऐसे एक्सरसाइज के बारे में बताने जा रहे हैं, जिससे आंखों से जुड़ी समस्या ठीक हो सकती है।

पढ़ें :- विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2022: यहां देखिये तम्बाकू छोड़ने के उपाए

आंखों को घुमाना

आंखों के सामने अपने बाएं हाथ को लाते हुए अपनी आंखों को दाएं ओर घुमाएं। इसके बाद दाएं हाथ को आंखों के सामने लाते हुए अपने आंखों को बाएं ओर घुमाएं। कुछ देर तक ऐसा करने से आपके आंखों की मांसपेशियां मजबूत होती हैं। साथ ही आंखों से जुड़ी परेशानियां भी ठीक हो सकती हैं।

भौंहों की मालिश

अगर आप लंबे समय तक कंप्यूटर पर काम कर रहे हैं और आंखों में काफी दर्द और जलन हो रहा है, तो इस एक्सरसाइज को करें। भौंहों पर मालिश करने से आंखों की थकान दूर हो जाती है। भौंहो पर मालिश करने की शुरुआत आइब्रोस के बीच से करें और धीरे-धीरे अपने दोनों और के भौहों को दबाएं। कुछ देर तक ऐसा करने से आपको काफी ज्यादा आराम मिलेगा।

आंखों की मालिश 

भौंहों के मसाज के साथ-साथ आंखों की मालिश करने से भी आपके आंखों से जुड़ी समस्या ठीक हो सकती है। आंखों की मालिश करने के लिए आंखों के नीचे अपनी उंगलियों से मालिश करें। इसके बाद पलकों के ऊपर अंगूठे से हल्का-हल्का मसाज करें। बंद आंखों को अच्छी तरह से मालिश करें। इससे आपको काफी बेहतर महसूस होगा।

पढ़ें :- इस गर्मी में इन 3 तरह के सलादों को खा कर देखे मिलेगी आपको ठंडक

पलके झपकाना और भिंचना 

आंखों को जितनी जल्दी हो सके, उतनी जल्दी-जल्दी झपकाने की कोशिश करें। इससे आंखों की ड्राईनेस दूर हो जाएगी। पूरे दिन में कम से कम 10 बार इस एक्सरसाइज को करने की कोशिश करें। इससे आपकी आंखों की रोशनी भी अच्छी होगी।

आंखों को ऊपर नीचे करना 

आंखों को ब्लिंक करने से भी आंखों की काफी अच्छी एक्सरसाइज हो जाती है। अपनी आइब्रोस के बीच में देखें और नाक की टिप को देखने की कोशिश करें। कुछ समय तक ऐसा बार-बार दोहराएं और अपनी आंखों को गोल-गोल घुमाने की कोशिश करें। थोड़ी देर तक ऐसा करने से आपके आंखों को राहत मिलेगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...