1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. जानें नई विधानसभा में कितने डाक्टर, इंजिनियर और विदेशी डिग्रियों से लैस हैं चुने हुए विधाय​क

जानें नई विधानसभा में कितने डाक्टर, इंजिनियर और विदेशी डिग्रियों से लैस हैं चुने हुए विधाय​क

उत्तरप्रदेश में नई सरकार का गठन जल्द ही हो जायेगा। अपने अपने क्षेत्रों से जीत दर्ज कर के कई विधायक पुन: विधानभवन पहुंचे हैं तो कितनों ने पहली बार जीत का स्वाद चखा है। जनता के द्वारा चुन के भेजे इन महानुभावों की शिक्षा दिक्षा कहां तक की हुई है इस खबर के माध्यम से ये हम आपको बतायेंगे। नई विधानसभा में डेढ़ दर्जन से ज्यादा पीएचडी धारक, एक दर्जन से ज्यादा डॉक्टर, इंजीनियर और विदेशी डिग्रियों से लैस हैं हमारे विधायक।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

लखनऊ। उत्तरप्रदेश में नई सरकार का गठन जल्द ही हो जायेगा। अपने अपने क्षेत्रों से जीत दर्ज कर के कई विधायक पुन: विधानभवन पहुंचे हैं तो कितनों ने पहली बार जीत का स्वाद चखा है। जनता के द्वारा चुन के भेजे इन महानुभावों की शिक्षा दिक्षा कहां तक की हुई है इस खबर के माध्यम से ये हम आपको बतायेंगे। नई विधानसभा में डेढ़ दर्जन से ज्यादा पीएचडी धारक, एक दर्जन से ज्यादा डॉक्टर, इंजीनियर और विदेशी डिग्रियों से लैस हैं हमारे विधायक।

पढ़ें :- Yogi के तंज पर अजय कुमार लल्लू का पलटवार, बोले- मेरा राजनीति में कोई 'मामा' नहीं रहा...

किसी ने एमबीबीएस किया है तो कोई विदेश से डिग्री लेकर आया है। किसी ने पीएचडी की है तो कोई इंजीनियर है। आगरा कैंट से भाजपा विधायक जीएस धर्मेश ने आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस किया है तो बरेली से दो डॉक्टर विधानसभा पहुंचे हैं। मछली शहर से सपा विधायक डॉ. रागिनी नेत्र रोग विशेषज्ञ, बिथरी से राघवेन्द्र शर्मा हड्डी रोग विशेषज्ञ, मड़ियाहूं सीट से अपना दल के डॉ आर के पटेल सर्जन हैं तो मीरगंज से डीसी वर्मा पशु रोग विशेषज्ञ हैं।

विदेशी डिग्रियों से लैस विधायकों की तो कैराना से सपा विधायक नाहिद हसन ऑस्ट्रेलिया के होलमॉस इंस्टीट्यूट से बीबीए करके राजनीति में आए हैं तो मेरठ कैंट से भाजपा विधायक अमित अग्रवाल ने उन्होंनेअमेरिका की जार्जिया स्टेट यूनिवर्सिटी से एमबीए की डिग्री ली है तो रायबरेली से प्रत्याशी अदिति सिंह ने यूएस की ड्यूक यूनिवर्सिटी से परास्नातक किया है। इलाहाबाद उत्तरी से भाजपा विधायक हर्षवर्धन बाजपेई ने शेफील्ड यूनवसिटी से बीटेक कर रखा है। इंजीनियरिंग की डिग्री लेने वाले भी विधायक बने हैं। स्वार में अब्दुल्ला आजम ने गलगोटिया से एमटेक किया गया है तो अनूपशहर के संजय शर्मा ने इंजीनियरिंग में परास्नातक किया है।

पीएचडी धारक भी सदन में पहुंचे

विधानसभा में सबसे ज्यादा पीएचडी धारक पहुंचे हैं। भाजपा से घोरावल विधायक डा अनिल कुमार मौर्य, वाराणसी से नीलकंठ तिवारी, देवरिया से शलभ मणि, सरोजनीनगर से राजेश्वर सिंह, एत्मादपुर से धर्मपाल, छपरौली से अजय कुमार, हमीरपुर से मनोज प्रजापति समेत सपा विधायक मड़यिाहूं से सपा सुषमा पटेल, जंगीपुर से वीरेन्द्र कुमार, गैंसड़ी से शिव प्रताप यादव समेत दो दर्जन पीएचडी धारक विधानसभा पहुंचे हैं।

पढ़ें :- Sonu Sood उठायेंगे 'बिहार के सोनू' की शिक्षा का खर्च, कहा- स्कूल का बस्ता बांधिए

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...