HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Lekhpal Appointment Letter Distribution : सीएम योगी बोले- अब बिना भेदभाव और आरक्षण नियमों के तहत योग्यता अनुरूप हो रही है भर्ती

Lekhpal Appointment Letter Distribution : सीएम योगी बोले- अब बिना भेदभाव और आरक्षण नियमों के तहत योग्यता अनुरूप हो रही है भर्ती

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने कहा कि 2022 की राजस्व विभाग (Revenue Department) ने भर्तियों को अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (Subordinate Services Selection Commission) ने पूरा कर लिया है। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों की फितरत होती है। अच्छे कार्यों में रोड़े अटकाना और गुमराह करना।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने कहा कि 2022 की राजस्व विभाग (Revenue Department) ने भर्तियों को अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (Subordinate Services Selection Commission) ने पूरा कर लिया है। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों की फितरत होती है। अच्छे कार्यों में रोड़े अटकाना और गुमराह करना। उन्होंने इस कार्य में भी रोड़े अटकाए, लेकिन अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (Subordinate Services Selection Commission)  सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) तक गया और और आज ये नियुक्ति पत्र वितरित किया जा रहा है। इस प्रक्रिया के पूरी होते ही प्रदेश में 30837 लेखपालों की नियुक्ति प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) बुधवार को लखनऊ के लोकभवन में 7720 लेखपालों को नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम में बोल रहे थे।

पढ़ें :- यूपी में दुकानों पर मालिकों के नाम का बोर्ड लगाने का विभाजनकारी आदेश संविधान, लोकतंत्र और हमारी साझी विरासत पर हमला है: प्रियंका गांधी

उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा पिछले 7 वर्षो से नियुक्ति प्रक्रिया निष्पक्ष रूप से चल रही है। इसकी वजह से 6 लाख से ज्यादा युवा प्रदेश की उन्नति मे सहयोग दे रहे है। पुलिस विभाग (Police Department) ने ही अकेले एक लाख 55 हजार युवा भर्ती किए गए। अब बिना भेदभाव और आरक्षण नियमों का पालन करते हुए युवा योग्यता अनुरूप भर्ती हो रहे हैं।

पढ़ें :- कांवड़ मार्गों के दुकानों पर 'नेमप्लेट' लगाने के निर्देश: रामगोपल यादव का सरकार पर निशाना, कहा-असंवैधानिक कार्य करके...

उन्होंने प्रदेश की पूर्ववर्ती सपा सरकार पर हमला करते हुए कहा कि 2017 से पहले भर्ती प्रक्रिया में तमाम समस्याएं थीं। एक परिवार आपस में जिले बांट लेता था और चाचा-भतीजे वसूली पर निकल जाते थे लेकिन नियुक्ति प्रक्रिया में निष्पक्षता से युवाओ में विश्वास आया है। युवाओं का विश्वास ही हमारी ताकत है। उन्होंने कहा कि ये वही प्रदेश है जब यहां का युवा बाहर जाता था तो पहले ही छांट दिया जाता था लेकिन आज युवा का सम्मान होता है। लोग समझ गए हैं ये नया उत्तर प्रदेश (New Uttar Pradesh) है। नए युवा हैं। उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों की नीयत साफ नहीं थी। भाई-भतीजावाद हावी होता था। कोर्ट से स्टे होते थे। पैसा सरकार के गुर्गों और दलालों की जेब में जाता था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...