HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Lucknow Crime : यूपी के पूर्व मुख्य सचिव हुए साइबर फ्रॉड का शिकार, क्रेडिट कार्ड से की गई शॉपिंग

Lucknow Crime : यूपी के पूर्व मुख्य सचिव हुए साइबर फ्रॉड का शिकार, क्रेडिट कार्ड से की गई शॉपिंग

यूपी के रिटायर्ड IAS अधिकारी और पूर्व मुख्य सचिव आलोक रंजन (Former Chief Secretary Alok Ranjan) हाल ही में साइबर फ्रॉड (Cyber Fraud) का शिकार हो गए। ठगों ने उनके क्रेडिट कार्ड से 383 डॉलर यानि करीब 31 हजार रुपये से ज्यादा की शॉपिंग कर ली। जब बैंक से उनके मोबाइल पर ट्रांजेक्शन का मैसेज आया तो उन्हें ठगी की जानकारी हुई।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी के रिटायर्ड IAS अधिकारी और पूर्व मुख्य सचिव आलोक रंजन (Former Chief Secretary Alok Ranjan) हाल ही में साइबर फ्रॉड (Cyber Fraud) का शिकार हो गए। ठगों ने उनके क्रेडिट कार्ड से 383 डॉलर यानि करीब 31 हजार रुपये से ज्यादा की शॉपिंग कर ली। जब बैंक से उनके मोबाइल पर ट्रांजेक्शन का मैसेज आया तो उन्हें ठगी की जानकारी हुई। गोमती नगर थानाक्षेत्र (Gomti Nagar Police Station Area) के विवेक खंड में पूर्व मुख्य सचिव व रिटायर्ड IAS आलोक रंजन (Retired IAS Alok Ranjan) अपने परिवार के साथ रहते हैं। बीती 8 जुलाई को उनके पास एक जालसाज ने खुद को SBI का कर्मचारी बताते हुए फोन किया। फ़ोन करने वाले ने उनके क्रेडिट कार्ड पर 1 लाख से अधिक रकम बाकी होने की बात कही।

पढ़ें :- Braj Mandal Yatra: ब्रज मंडल यात्रा से पहले नूंह में इंटरनेट-SMS सेवा 24 घंटे के लिए बंद , सरकार अलर्ट

यह बात सुनकर रिटायर्ड IAS भी हैरान हो गए। इसी दौरान ठग ने उन्हें एक क्रेडिट कार्ड नंबर बताया जो गलत था और आलोक रंजन (Alok Ranjan) ने इस नंबर को नकार दिया। इसके बाद ठग ने उनसे मोबाइल में 9 दबाने के बाद बैंक में संपर्क करने की बात कही। उन्होंने जब 9 दबाया तो कॉल कट गई। शाम को उनके पास बैंक से 383 डॉलर की शॉपिंग किए जाने की बात सामने आई तब उन्हें ठगी का एहसास हुआ। फिलहाल रिटायर्ड IAS ने गोमती नगर थाने (Gomti Nagar Police Station) में साइबर ठगी का मुकदमा दर्ज कराया है। SHO गोमती नगर दीपक कुमार पांडेय (SHO Gomti Nagar Deepak Kumar Pandey) ने कहा कि मामला दर्ज कर लिया गया और जांच भी शुरू की गई है। जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार किया जाएगा।

हाल ही में कवि नरेश सक्सेना भी हुए थे शिकार

राजधानी के वरिष्ठ कवि नरेश सक्सेना (Poet Naresh Saxena) भी हाल ही में साइबर फ्रॉड के प्रयास का शिकार हो गए थे। ठग ने सीबीआई इंस्पेक्टर बनकर उन्हे ठगने के मकसद से 6 घंटे तक डिजिटल अरेस्ट रखा। इस दौरान कवि से उसने कविताएं और बांसुरी भी सुनी थी। जब कवि की बहू को इस बात की जानकारी मिली तो उसने जबरन फ़ोन काट कर उन्हे साइबर फ्रॉड (Cyber Fraud) का शिकार होने से बचाया। फिलहाल गोमती नगर पुलिस (Gomti Nagar Police) मामले की जांच में जुटी हुई है।

पढ़ें :- IND W vs UAE W: इंडिया विमेंस ने यूएई को 78 रनों से चटायी धूल; Richa Ghosh ने खेली तूफानी पारी
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...