1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP New: चौतरफा घिरे स्वामी प्रसाद मौर्य पर अब दर्ज हुई FIR, रामचरित मानस पर दिया था विवादित बयान

UP New: चौतरफा घिरे स्वामी प्रसाद मौर्य पर अब दर्ज हुई FIR, रामचरित मानस पर दिया था विवादित बयान

समाजवादी पार्टी के नेता और एमएलसी स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। रामचरित मानस पर विवादित बयान देकर स्वामी प्रसाद मौर्य चौतरफा घिर गए हैं। प्रदेशभर में उनके खिलाफ विरोध प्रदर्शन हो रहा है। पार्टी ने भी उनके बयान से पल्ला झाड़ लिया है। वहीं, अब उनके खिलाफ राजधानी लखनऊ के हरजतगंज कोतवाली में FIR दर्ज की गई है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के नेता और एमएलसी स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। रामचरित मानस पर विवादित बयान देकर स्वामी प्रसाद मौर्य चौतरफा घिर गए हैं। प्रदेशभर में उनके खिलाफ विरोध प्रदर्शन हो रहा है। पार्टी ने भी उनके बयान से पल्ला झाड़ लिया है। वहीं, अब उनके खिलाफ राजधानी लखनऊ के हरजतगंज कोतवाली में FIR दर्ज की गई है। ऐशबाग के शिवेंद्र मिश्रा ने स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya)  के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। ये एफआईआर रामचरित मानस पर विवादित बयान देने के चलते कराई गई है। ऐसे में अब सपा नेता की मुश्किलें बढ़नी तय मानी जा रही है।

पढ़ें :- Lucknow News : खिड़की से चिल्लाती रही मां और 15 साल के बेटे ने लगा ली फांसी, ये थी वजह

शिवपाल यादव ने बताया निजी बयान
जसवंतनगर में शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) ने स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya)  के इस बयान को उनका निजी बयान ​बताया है। उनका कहना है कि, ये पार्टी का बयान नहीं है। हम लोग भगवान राम और कृष्ण के आदर्शों पर चलने वाले लोग हैं। वहीं, इस दौरान शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) ने भाजपा सरकार पर भी निशाना साधा।

स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहीं थीं ये बातें
स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya)  ने कहा था कि इससे दलितों और महिलाओं का अपमान हुआ है। तुलसीदास ने इसे अपनी खुशी के लिए लिखा था। करोड़ों लोग इसे नहीं पढ़ते। उन्होंने सरकार से इस पर प्रतिबंध तक लगाने की मांग तक कर दी। मौर्य ने रामचरितमानस को बकवास बताते हुए इसकी कुछ चौपाइयां हटवाने की मांग की थी।

 

पढ़ें :- स्वामी प्रसाद मौर्य के बयान से बढ़ा सियासी पारा, ट्वीट कर लिखा-कदम-कदम पर जातीय अपमान की पीड़ा से व्यथित होकर...
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...