1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव, 2022
  3. Dr. Manju Shiwach jeevan parichay : पति के सलाह पर डॉ. मंजू शिवाच उतरीं राजनीति की पिच पर और मार लिया मैदान

Dr. Manju Shiwach jeevan parichay : पति के सलाह पर डॉ. मंजू शिवाच उतरीं राजनीति की पिच पर और मार लिया मैदान

Dr. Manju Shiwach jeevan parichay : यूपी (UP) के गाजियाबाद जिले (Ghaziabad District) केे निर्वाचन क्षेत्र - 57, मोदी नगर विधानसभा सीट से डॉ. मंजू शिवाच पहली बार भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के टिकट पर विधायक निर्वाचित हुई हैं। डॉ. मंजू शिवाच (Dr. Manju Shiwach) डॉक्टरी पेशे से राजनीति के मैदान में आई हैं। डॉ. मंजू शिवाच (Dr. Manju Shiwach)  पिछले 32 वर्षों में विधायकी का सेवाभार संभालने वाली पहली महिला हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Dr. Manju Shiwach jeevan parichay : यूपी (UP) के गाजियाबाद जिले (Ghaziabad District) केे निर्वाचन क्षेत्र – 57, मोदी नगर विधानसभा सीट से डॉ. मंजू शिवाच पहली बार भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के टिकट पर विधायक निर्वाचित हुई हैं। डॉ. मंजू शिवाच (Dr. Manju Shiwach) डॉक्टरी पेशे से राजनीति के मैदान में आई हैं। डॉ. मंजू शिवाच (Dr. Manju Shiwach)  पिछले 32 वर्षों में विधायकी का सेवाभार संभालने वाली पहली महिला हैं। उनसे पहले वर्ष 1985 में कांग्रेस से विमला सिंह (Vimla Singh) यहां से महिला विधायक रही हैं। डॉ. मंजू शिवाच (Dr. Manju Shiwach)  वर्ष 2017 में हुए विधानसभा चुनावों में बहुजन समाज पार्टी (Bahujan samaj party) के वहाब चौधरी (Wahab Chaudhary) को 60,000 वोटों से हराकर विधायक निर्वाचित हुई हैं।

पढ़ें :- Isudan Gadhvi Biography: जानिए कौन है ईसूदान गढ़वी ​जिनको AAP ने बनाया गुजरात में मुख्यमंत्री का चेहरा?

ये है पूरा सफरनामा

नाम -डॉ. मंजू शिवाच
निर्वाचन क्षेत्र – 57, मोदी नगर विधानसभा सीट, गाजियाबाद
दल – भारतीय जनता पार्टी
पिता का नाम- होशियार सिंह
जन्‍म तिथि –19 जून, 1962
जन्‍म स्थान- देहरादून (उत्तराखण्ड)
धर्म- हिन्दू
जाति- राजपूत
शिक्षा- एमबीबीएस, डीजीओ
विवाह तिथि- 12 दिसम्बर, 1988
पति का नाम- डॉ. देवेन्द्र शिवाच
सन्तान- एक पुत्री
व्‍यवसाय- चिकित्सा
मुख्यावास-11-ए, बैंक कालोनी, दिल्ली मेरठ रोड मोदीनगर, जनपद- गाजियाबाद

शिक्षा और जीवन शैली

डॉ. मंजू शिवाच (Dr. Manju Shiwach) देहरादून (Dehradun) के एक गैर राजनीतिक परिवार में पालन पोषण हुआ है, इनके पिता यूपी रोडवेज (UP Roadways) में अकाउंट ऑफिसर रहे हैं । इनकी माता एक शिक्षिका थी। उनकी शुरूआती शिक्षा उत्तराखंड (Uttarakhand) के महादेवी कन्या पाठशाला से हुयी है । उन्होंने वर्ष 1987 में मेरठ यूनिवर्सिटी से मेडिसिन और सर्जरी विज्ञान (Medicine and Surgical Sciences from Meerut University) में स्नातक किया है। और साथ ही उन्होंने प्रसूति विज्ञान व स्त्री रोग विज्ञान (Obstetrics and Gynecology) के अंतर्गत डिप्लोमा भी प्राप्त किया है। मेडिकल की शिक्षा के बाद से ही डॉ. मंजू शिवाच (Dr. Manju Shiwach)  मोदीनगर (Modinagar) में लंबे समय से प्रेक्टिस भी कर रही हैं और सामाजिक क्रियाकलापों से भी जुडी रही हैंं।

पढ़ें :- Rama Shankar Singh Patel jeevan parichay : रमाशंकर दिग्गज कांग्रेसी को हराकर बने विधायक, योगी ने दिया मंत्री पद

2012 में मोदीनगर नगर पालिका के अंतर्गत चेयरमैन पद चुनाव में नहीं मिली मिली सफलता, फिर भी नहीं मानी हार

डॉ मंजू शिवाच (Dr. Manju Shiwach)   विगत एक दशक से राजनीति में सक्रिय रही हैं। इससे पहले भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) में महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष भी रहीं हैं। डॉ मंजू शिवाच (Dr. Manju Shiwach)    पहली बार राजनीति में अपने पति के कहने पर आई, जो स्वयं राजनीति से जुड़े हुए हैं। इनके पति वर्ष 2012 में मोदीनगर नगर पालिका के अंतर्गत चेयरमैन पद के लिए चुनाव में उतरना चाहते थे, किन्तु महिला सीट होने के चलते उन्होंने डॉ मंजू शिवाच (Dr. Manju Shiwach)   को चुनाव में खड़ा किया। हालांकि चेयरमैन चुनाव में वह पीछे रह गयी, लेकिन बीजेपी (BJP) की महिला मोर्चा में जिलाध्यक्ष (Mahila Morcha District President) का पद उन्हें मिला, जिसके उपरांत से ही उन्होंने बीजेपी को संगठनात्मक तौर पर मजबूत बनाने के लिए कार्य किया।

विधायक पद पर​ निर्वाचित होने के डॉ मंजू शिवाच (Dr. Manju Shiwach)    अपने सामाजिक दायित्त्वों के साथ अपने चिकित्सकीय पेशे को अधिक समय नहीं दे पाती है, लेकिन आज भी वह प्रत्येक सुबह अपने हॉस्पिटल में आये मरीजों को जरुर देखती हैं। उनका मानना है कि यह पेशा स्वयं में एक सामाजिक सेवा के समान है।

राजनीतिक योगदान

मार्च, 2017 सत्रहवीं विधान सभा की सदस्या प्रथम बार निर्वाचित

पढ़ें :- Ratnakar Mishra jeevan parichay : मां विंध्यवासिनी मंदिर के पुरोहित रत्नाकर मिश्रा बने विधायक, 20 साल बाद खिलाया कमल

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...