1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP News : राजधानी लखनऊ के इस स्कूल ने A फॉर अर्जुन और B फॉर बलराम पढ़ाने की पहल शुरू की

UP News : राजधानी लखनऊ के इस स्कूल ने A फॉर अर्जुन और B फॉर बलराम पढ़ाने की पहल शुरू की

यूपी की राजधानी लखनऊ (Lucknow) का 125 साल पुराना स्कूल अमीनाबाद में स्थित अमीनाबाद इंटर कॉलेज (Aminabad Inter College) बच्चों को पौराणिक और ऐतिहासिक ज्ञान (Historical and mythological knowledge) देने की पहल शुरू की है। इसके तहत इस स्कूल में A फॉर एप्पल नहीं बल्कि A फॉर अर्जुन पढ़ाया जा रहा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ (Lucknow) का 125 साल पुराना स्कूल अमीनाबाद में स्थित अमीनाबाद इंटर कॉलेज (Aminabad Inter College) बच्चों को पौराणिक और ऐतिहासिक ज्ञान (Historical and mythological knowledge) देने की पहल शुरू की है। इसके तहत इस स्कूल में A फॉर एप्पल नहीं बल्कि A फॉर अर्जुन पढ़ाया जा रहा है।

पढ़ें :- SBI SCO Recruitment: भारतीय स्टेट बैंक में निकली बम्पर भर्ती, कैंडिडेट्स जल्द करें अप्लाई

कॉलेज के प्रधानाध्यापक साहेब लाल मिश्रा (Principal Saheb Lal Mishra) ने बताया कि इस पद्धति से बच्चों को पौराणिक और ऐतिहासिक ज्ञान मिलेगा। बता दें कि सोशल मीडिया पर इस किताब की तस्वीरें वायरल हो रही हैं। वायरल हो रही किताब में A से लेकर Z तक के शब्दों के मतलब भारतीय पौराणिक इतिहास (Indian Mythological History) के बारे में बता रहा है।

यहां स्कूल के बच्चों को ABCD का नया मतलब बताया जा रहा है। जो भारतीय ऐतिहासिक (Indian  Historical) और पौराणिक महापुरुषों के नाम से संबंधित है। किताब में ABCD का मतलब बताते हुए सचित्र उसके बारे में वर्णन भी किया गया है। जैसे A फॉर अर्जुन इज अ ग्रेट वॉरियर ऐसे ही B फॉर का मतलब बलराम इज ब्रदर ऑफ कृष्णा बताया गया है।

किताब के बारे में अमीनाबाद के प्रधानाध्यापक साहेब लाल मिश्रा (Principal Saheb Lal Mishra)  ने बताया कि छात्रों को भारतीय संस्कृति (Indian culture) के बारे में जानकारी न के बरबार है। इसलिए उनके ज्ञान को बढ़ाने के लिए ऐसा किया गया है। इससे छात्र भारतीय संस्कृति से परिचित हो सकेंगे। अंग्रेजी वर्णमाला (English alphabets) का पीडीएफ फॉर्मेट सोशल मीडिया पर भी उपलब्ध है।

पढ़ें :- नौतनवा:सांस्कृतिक कार्यक्रमों के बीच हर्षोल्लास के साथ 74वॉ गणतंत्र दिवस और बसंत पंचमी मना
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...