HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. बॉलीवुड
  3. Palak Muchhal एक या दो नहीं बल्कि 3000 बच्चों की बचा चुकी जान

Palak Muchhal एक या दो नहीं बल्कि 3000 बच्चों की बचा चुकी जान

मशहूर सिंगर पलक मुच्छल (Palak Muchhal) बॉलीवुड की फिल्मों कई लोकप्रिय गानों को अपनी आवाज दे चुकी हैं। फैंस उनकी खनकती आवाज के दीवाने हैं। ‘पूत के लक्षण पालने में ही दिख जाते हैं’ वाली कहावत को चरितार्थ करते हुए पलक (Palak Muchhal) ने मात्र ढाई साल की उम्र में ही सुरों को साधना शुरू कर दिया था।

By आराधना शर्मा 
Updated Date

मुंबई : मशहूर सिंगर पलक मुच्छल (Palak Muchhal) बॉलीवुड की फिल्मों कई लोकप्रिय गानों को अपनी आवाज दे चुकी हैं। फैंस उनकी खनकती आवाज के दीवाने हैं। ‘पूत के लक्षण पालने में ही दिख जाते हैं’ वाली कहावत को चरितार्थ करते हुए पलक (Palak Muchhal) ने मात्र ढाई साल की उम्र में ही सुरों को साधना शुरू कर दिया था।

पढ़ें :- फैंस को अपनी तरफ खींच रहा 'द सीक्रेट ऑफ देवकाली' का टीजर, फिल्म के रिलीज होने का बेसब्री से इंतजार

बड़ी बात ये है कि पलक सामाजिक कामों में भी खूब रुचि रखती हैं। पलक (Palak Muchhal) अब तक 3000 बच्चों की जिंदगी बचा चुकी हैं। इस बीच पलक (Palak Muchhal) ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर इंदौर के 8 साल के बच्चे आलोक साहू के लिए प्रार्थना करने वालों को शुक्रिया कहा है।

पलक (Palak Muchhal) ने मंगलवार को अपने ट्विटर (एक्स) अकाउंट पर आलोक का वीडियो शेयर कर कहा कि उसकी सर्जरी सक्सेसफुल रही और अब वो बिल्कुल ठीक है। उल्लेखनीय है कि आलोक के साथ ही गरीब बच्चों की हार्ट सर्जरी करवाने की ये संख्या अब 3000 पर पहुंच गई है।


इस सामाजिक सरोकार दिखाने वाले काम के लिए पलक का नाम ‘गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड’ और ‘लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड’ में दर्ज हो चुका है। इसके अलावा उन्हें भारत सरकार और अन्य कई संस्थानों ने भी अलग-अलग पुरस्कारों से सम्मानित किया है। पूर्व में पलक ने मिर्ची प्लस के साथ बातचीत में कहा कि मैं कई बच्चों का इलाज करवा रही हूं, जिन्हें हार्ट सर्जरी की जरूरत है। मैं 3000 सर्जरी पूरी करने के साथ लगभग 400 और बच्चों का इलाज करना चाहती हैं।


ये एक सपने जैसा लगता है कि एक छोटी सी पहल जो एक छोटी सी बच्ची ने शुरू की थी वो आज इतना बड़ा मकसद बन गया। मेरी जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन गया है ये। वे 3000 बच्चे मेरे लिए मेरे परिवार की तरह हैं। मेरा हर कॉन्सर्ट कार्यक्रम उन हार्ट सर्जरी को समर्पित होता है। बच्चे इंतजार करते हैं कि पलक दीदी का कॉन्सर्ट कब होगा और उनकी सर्जरी कब होगी। मैं प्रार्थना करती हूं कि भगवान मुझे इतनी शक्ति दे कि मैं अपनी इस इच्छा को आगे बढ़ा सकूं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...