HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. उनको वो भाषा नहीं बोलनी चाहिए जो आज हमारे विरोधी लोग बोलते हैं…ओपी राजभर पर अनिल राजभर का पलटवार

उनको वो भाषा नहीं बोलनी चाहिए जो आज हमारे विरोधी लोग बोलते हैं…ओपी राजभर पर अनिल राजभर का पलटवार

अनिल राजभर ने कहा कि, आज हिंदुस्तान का लोकतंत्र एक तरह से परिपक्व हो गया है। सदियों में ऐसा होगा जो पीएम मोदी जी ने किया है। लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री बनकर नरेंद्र मोदी जी ने इतिहास बना दिया है। पूरी दुनिया मोदी जी को बधाई दे रही है। मैं तो कहूंगा कि समीक्षा ​ईमानदारी से करें। साथियों पर इस तरह अंगुली नहीं उठाई जाती। उनको जो वोट मिला है वो भाजपा का है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। सुभासपा प्रमुख ओपी राजभर का एक बयान सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। हालांकि, उन्होंने अपने इस बयान का खंडन भी किया है। उनके बयान पर अब भाजपा नेता अनिल राजभर ने पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि, ओम प्रकाश जी हमारे गठबंधन के साथ ही हैं। उनको वो भाषा नहीं बोलनी चाहिए जो आज हमारे विरोधी लोग बोलते हैं।

पढ़ें :- बिजली मीटर की जांच व बकाया बिल के नाम पर किसी उपभोक्ता का उत्पीड़न न किया जाए: सीएम योगी

एक न्यूज चैनल से बातचीत के दौरान अनिल राजभर ने कहा कि, आज हिंदुस्तान का लोकतंत्र एक तरह से परिपक्व हो गया है। सदियों में ऐसा होगा जो पीएम मोदी जी ने किया है। लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री बनकर नरेंद्र मोदी जी ने इतिहास बना दिया है। पूरी दुनिया मोदी जी को बधाई दे रही है। मैं तो कहूंगा कि समीक्षा ​ईमानदारी से करें। साथियों पर इस तरह अंगुली नहीं उठाई जाती। उनको जो वोट मिला है वो भाजपा का है।

इसके साथ ही कहा, आपसे राजभर समाज के लोग क्यों टूट गए उस पर उनको विचार करना चाहिए। निर्दल प्रत्याशी लीलावती राजभर को 45 हजार वोट मिले। एनडीए के प्रत्याशी वहां से 15 हजार वोटों से हर गए, जहां से ओपी राजभर जी विधायक हैं। खबर में बने रहने के लिए इस तरह बयान नहीं देना चाहिए। एक परिवक्व राजनीतिक की तरफ उन्हें बात करनी चाहिए। लोकतंत्र में हार जीत लगी रहती है और वोट ज्यादा मिलते रहते हैं।

दअरसल, एक दिन पहले ही ओपी राजभर का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। वायरल वीडियों में उन्होंने अपने गठबंधन के वरिष्ठ नेताओं पर निशाना साधा था। वीडियो वायरल होने के कुछ ही समय बाद ओमप्रकाश राजभर के पुत्र अरुण राजभर ने एक वीडियो जारी कर इस समाचार का खंडन किया। उन्होंने ऐसे किसी बयान को सिरे से खारिज किया। कहा कि ओमप्रकाश राजभर ने ऐसा कोई बयान नहीं दिया है।

पढ़ें :- नौकरशाहों के गलत फैसलों सरकार की छवि शिक्षक और कर्मचारी विरोधी बनी : बीजेपी एमएलसी देवेन्द्र प्रताप सिंह
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...