HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. आसाराम सीने में दर्द की शिकायत के बाद जोधपुर एम्स में भर्ती, मिली है आजीवन कारावास की सजा

आसाराम सीने में दर्द की शिकायत के बाद जोधपुर एम्स में भर्ती, मिली है आजीवन कारावास की सजा

नाबालिग से यौन शोषण (Sexual Abuse) के मामले में राजस्थान में आजीवन कारावास की सजा काट रहे आसाराम (Asaram) की देर रात जोधपुर एम्स (Jodhpur AIIMS) में एडमिट कराया गया है। उन्हें सीने में दर्द (Chest Pain) की शिकायत पर भर्ती किया गया है। आसाराम (Asaram) को तीन दिन पहले सीने में दर्द हुआ था।

By संतोष सिंह 
Updated Date

जोधपुर। नाबालिग से यौन शोषण (Sexual Abuse) के मामले में राजस्थान में आजीवन कारावास की सजा काट रहे आसाराम (Asaram) की देर रात जोधपुर एम्स (Jodhpur AIIMS) में एडमिट कराया गया है। उन्हें सीने में दर्द (Chest Pain) की शिकायत पर भर्ती किया गया है। आसाराम (Asaram) को तीन दिन पहले सीने में दर्द हुआ था। जिसके बाद उसे अस्पताल ले जाया गया था, लेकिन जांच के बाद वापस भेज दिया गया। गुरुवार रात को तबीयत खराब होने पर करीब एक बजे उसे यहां भर्ती करवाया गया था। फिलहाल उसे आईसीयू (ICU) में रखा गया है। आसाराम के स्वास्थ्य रिपोर्ट में शरीर में खून की कमी बताई गई है उसका हीमोग्लोबिन 8.7 रह गया है।

पढ़ें :- सुप्रीम कोर्ट ने अरविंद केजरीवाल को दी बड़ी राहत, सीएम पद पर रहेंगे या नहीं इसका फैसला खुद करें

डॉक्टर्स उसके पेट में होने वाली आंतरिक ब्लीडिंग सहित परेशानियों का उपचार कर रहे हैं। इसके अलावा उसकी कई तरह की जांच भी हो रही है। आसाराम (Asaram) संगठन के अधिकृत एक्स हैंडल से लोगों को भीड़ नहीं करने का आग्रह किया गया है जिससे उपचार में कोई परेशानी नहीं हो।

उल्लेखनीय है कि 21 मार्च को राजस्थान हाईकोर्ट (Rajasthan High Court) ने यौन उत्पीड़न (Sexual Harassment) के आरोप में सजा काट रहे आसाराम को जोधपुर के ही एक निजी आयुर्वेदिक अस्पताल में पुलिस सुरक्षा के बीच 10 दिन तक उपचार करवाने की अनुमति दी थी। जिसके तहत उसका उपचार महाराष्ट्र से आए आयुर्वेद के वैध ने किया था। जबकि आसाराम ने महाराष्ट्र के खपोली में उपचार करने के लिए प्रार्थना पत्र दिया था, लेकिन महाराष्ट्र पुलिस ने सुरक्षा कारणों ने उपचार के लिए अनुमति नहीं दी थी।

नाबालिग के साथ यौन शोषण (Sexual Abuse)  के आरोप में आसाराम (Asaram) को जोधपुर की अदालत में उसके प्राकृतिक जीवन तक आजीवन कारावास के सजा सुना रखी है। जिसके अनुसार आसाराम (Asaram) मृत्यु तक जेल में ही रहेगा। आसाराम (Asaram) की ओर से जमानत और पैरोल को लेकर दर्जनों प्रार्थना पत्र हाई कोर्ट सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में लगाए गए, लेकिन फिलहाल उसे कहीं से भी राहत नहीं मिली है।

पढ़ें :- सुप्रीम कोर्ट से अरविंद केजरीवाल को बड़ी राहत; ईडी की गिरफ्तारी के मामले में मिली अंतरिम जमानत
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...