HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. हाथरस घटना पर राहुल गांधी ने सीएम योगी को लिखा पत्र, कहा-मेरा आग्रह है कि मुआवजे की राशि बढ़ाई जाए

हाथरस घटना पर राहुल गांधी ने सीएम योगी को लिखा पत्र, कहा-मेरा आग्रह है कि मुआवजे की राशि बढ़ाई जाए

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लिखे गए पत्र में राहुल गांधी ने लिखा कि, हाथरस में हुई भगदड़ की दुर्घटना में 120 से अधिक लोगों की मृत्यु के समाचार से स्तब्ध हूं। हृदय में पीड़ा के साथ आपको यह पत्र लिख रहा हूं और यह जानता हूं कि आप भी यही पीड़ा महसूस कर रहे होंगे। कल सुबह जनपद अलीगढ़ और हाथरस के कई पीड़ित परिवारों से मैंने मुलाकात की और उनका दर्द साझा करने की कोशिश की।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुए दर्दनाक हादसे में 121 लोगों की जान चली गई, जबकि बड़ी संख्या में लोग घायल हैं। घायलों का उपचार चल रहा है। बीते दिनों कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने हाथरस पीड़ित परिवार से मुलाकात की थी। पीड़ितों से मुलाकात के बाद राहुल गांधी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है। उन्होंने पत्र में लिखा कि, उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जो मुआवजा घोषित किया गया है, वह बहुत अपर्याप्त है। मेरा आग्रह है कि मुआवजे की राशि बढ़ाई जाए और उसे जल्द से जल्द दिया जाए। साथ ही साथ घायलों का समुचित इलाज कराया जाए और उन्हें भी उचित मुआवजा दिया जाए।

पढ़ें :- MSP की कानूनी गारंटी किसानों का हक़ है...किसान नेताओं से मुलाकात के बाद बोले राहुल गांधी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लिखे गए पत्र में राहुल गांधी ने लिखा कि, हाथरस में हुई भगदड़ की दुर्घटना में 120 से अधिक लोगों की मृत्यु के समाचार से स्तब्ध हूं। हृदय में पीड़ा के साथ आपको यह पत्र लिख रहा हूं और यह जानता हूं कि आप भी यही पीड़ा महसूस कर रहे होंगे। कल सुबह जनपद अलीगढ़ और हाथरस के कई पीड़ित परिवारों से मैंने मुलाकात की और उनका दर्द साझा करने की कोशिश की। हादसा इतना दुखद है कि परिजनों से मिलते समय मेरे पास सांत्वना के शब्द भी कम पड़ गए। अनेक परिवारों ने इस दुर्घटना में अपना जो कुछ भी खोया है, उसकी पूर्ति तो किसी भी प्रकार से सम्भव नहीं है परन्तु प्रभावित परिवारों की हरसंभव सहायता करके हम उनका दुख कम करने का प्रयास अवश्य कर सकते हैं।

राहुल गांधी ने पत्र में आगे लिखा कि, उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जो मुआवजा घोषित किया गया है, वह बहुत अपर्याप्त है। मेरा आग्रह है कि मुआवजे की राशि बढ़ाई जाए और उसे जल्द से जल्द दिया जाए। साथ ही साथ घायलों का समुचित इलाज कराया जाए और उन्हें भी उचित मुआवजा दिया जाए। पीड़ित परिवारों ने मुझसे यह भी साझा किया कि इस पूरे हादसे के लिए जिम्मेदार वहां के स्थानीय प्रशासन की लापरवाही और संवेदनहीनता है। इस मामले में उचित एवं पारदर्शी जांच न सिर्फ आने वाले समय में इस तरह की दुर्घटनाओं को रोकने की तरफ एक सही कदम होगा, बल्कि इससे इन पीड़ित परिवारों के मन मे न्याय-व्यवस्था के प्रति विश्वास भी पुनर्स्थापित होगा। न्याय की दृष्टि से यह भी आवश्यक है कि दोषी व्यक्तियों को कठोर सजा दी जाए।

पढ़ें :- किसान नेताओं को संसद में मिलने के लिए बुलाए राहुल गांधी, एंट्री नहीं मिली तो सरकार पर साधा निशाना

दुख की इस घड़ी में हम सभी की ज़िम्मेदारी है कि पीड़ित परिवारों का साथ दें। इस मामले में आपके हर संभव सहयोग के लिए कांग्रेस पार्टी के समस्त कार्यकर्ता एवं मैं स्वयं उपलब्ध हूं। उम्मीद है इस पूरे मामले की गंभीरता देखते हुए, आप सहायता के संदर्भ में किए जाने वाले कार्यों को विशेष प्राथमिकता प्रदान करेंगे।

 

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...