HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Hathras: भगदड़ में अब तक करीब 120 लोगों की मौत, अभी भी अपनो की तलाश कर रहे लोग

Hathras: भगदड़ में अब तक करीब 120 लोगों की मौत, अभी भी अपनो की तलाश कर रहे लोग

हाथरस में हुए दर्दनाक हादसे में अब तक 120 लोगों के मौत हो गयी है, जबकि बड़ी संख्या में लोग घायल हैं। घायलों को उपचार के लिए अलग अलग अस्पतालों में भर्ती कराया जा रहा रहा है। वहीं, इस भगदड़ में अपनों से जुदा हुए लोगों की तलाश भी जारी है। कोई अपने बेटे तो कोई पत्नी तो कोई मां की तलाश कर रहा है। शासन से लेकर पुलिस प्रशासन भी उनकी मदद करने में जुट गया है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Hathras: हाथरस में हुए दर्दनाक हादसे में अब तक 120 लोगों के मौत हो गयी है, जबकि बड़ी संख्या में लोग घायल हैं। घायलों को उपचार के लिए अलग अलग अस्पतालों में भर्ती कराया जा रहा रहा है। वहीं, इस भगदड़ में अपनों से जुदा हुए लोगों की तलाश भी जारी है। कोई अपने बेटे तो कोई पत्नी तो कोई मां की तलाश कर रहा है। शासन से लेकर पुलिस प्रशासन भी उनकी मदद करने में जुट गया है। हालांकि, बड़ी संख्या में लोगों के जुटने के कारण अभी भी घटनास्थल के आसपास बड़ी संख्या में लोग जमा हुए हैं।

पढ़ें :- दुकानों पर 'नेमप्लेट' लगाने का मामला: कपिल सिब्बल ने योगी सरकार को घेरा, बोले- विभाजनकारी एजेंडे से देश बंटेगा

हाथस प्रशासन ने हेल्पलाइन नंबर जारी किया
हाथरस में भगदड़ में हुई मौत के बाद परिजनों की सहायता के लिए जिला प्रशासन ने हेल्पलाइन नंबर भी जारी की है। इस पर मृतकों और घायलों के बारे में जानकारी ली जा सकती है। प्रशासन ने इसके लिए 05722227041 और 05722227042 नंबर जारी किया है। माना जा रहा है कि भोले बाबा के सत्संग में बड़े पैमाने पर यूपी के आसपास के राज्यों से भी लोग पहुंचे थे। ऐसे में इन लोगों के परिजनों को सूचना के लिए यह हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है।

यूपी के साथ हरियाणा-राजस्थान से आए थे लोग
सत्संग में शामिल होने के लिए अलीगढ़, एटा, आगरा, मैनपुरी, इटावा, फिरोजाबाद, कासंगज के अलावा दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा और एमपी से भी काभी संख्या में महिला-पुरुष श्रद्धालु पहुंचे थे। सत्संग समाप्ति के बाद श्रद्धालुओं की भीड़ का पंडाल से निकलना शुरु हुआ। सत्संग में शामिल होने के लिये अपने परिवार के साथ जयपुर से आई एक महिला ने बताया कि सत्संग के समापन के बाद लोग बाहर निकलने में जल्दबाजी कर रहे थे। पंडाल में काफी उमस थी। जिसके चलते तमाम श्रद्धालु बाहर निकलने की जल्दी करने लगे। इस दौरान भोले बाबा का काफिला निकालने के लिए श्रद्धालुओं को रोका गया। तभी श्रद्धालुओं में भगदड़ मच गई। जिसमें तमाम श्रद्धालु जमीन पर गिर पड़े और लोग उन्हें कुचलते हुए भागने लगे। पूरे पंडाल में चीख-पुकार मच गई।

 

 

पढ़ें :- सीएम योगी ने शुरू किया पौधरोपण अभियान, बोले-अकबरनगर को हटाकर सौमित्र वन स्थापित किया जा रहा

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...